सोमवार, 31 दिसंबर 2012

नई सुबह

  नई सुबह

 नई सुबह की नई तरंगे
नई  धूप की  लाली  
धरती से अम्बर तक गूंजे 
एक  नई  कहानी  
शब्दों से  आकाश  बने   
आशाओं  से हरियाली                       नव वर्ष की शुभकामनाएँ 
हिम्मत से इतिहास बने 
मेहनत को मिले सलामी 
बढ़े कदम फिर रुक न सके 
हो मंजिल नई -  पुरानी
नई  सुबह के नए तराने  
गाये दुनिया सारी ।


 
      

13 टिप्‍पणियां:

  1. बहुत सुन्दर भाव...नव वर्ष की हार्दिक शुभकामनायें!

    उत्तर देंहटाएं
  2. प्रतीक्षा है सूर्योदय की... नव वर्ष की शुभकामनाओं के साथ....

    उत्तर देंहटाएं
  3. यह वर्ष सभी के लिए मंगलमय हो..
    सुन्दर रचना...
    आपको सहपरिवार नववर्ष की हार्दिक शुभकामनाएँ...
    :-)

    उत्तर देंहटाएं
  4. नव वर्षकी ढेर सारी मंगलकामनायें।

    उत्तर देंहटाएं
  5. बहुत उम्दा.बेहतरीन श्रृजन,,,,
    नए साल 2013 की हार्दिक शुभकामनाएँ|
    ==========================
    recent post - किस्मत हिन्दुस्तान की,

    उत्तर देंहटाएं
  6. नव वर्ष की समस्त शुभकामनाएं ...

    उत्तर देंहटाएं
  7. धरती से अम्बर तक गूंजे
    एक नई कहानी ....
    -----------------------------
    सुन्दर रचना। नव वर्ष की बधाई

    उत्तर देंहटाएं
  8. सुन्दर आशा के भाव नव वर्ष पे ...
    आपको २०१३ की मंगल कामनाएं ..

    उत्तर देंहटाएं
  9. नव वर्ष पर आपको भी बहुत सारी शुभकामनायें.

    उत्तर देंहटाएं
  10. navvarsh pr sundar bhavon se pripoorn rachana ke liye abhar sath hi apko navvarsh pr hardik shubhkamnayen

    उत्तर देंहटाएं
  11. आप की ये खूबसूरत रचना शुकरवार यानी 8 फरवरी की नई पुरानी हलचल पर लिंक की जा रही है...
    आप भी इस हलचल में आकर इस की शोभा पढ़ाएं।
    भूलना मत

    htp://www.nayi-purani-halchal.blogspot.com
    इस संदर्भ में आप के सुझावों का स्वागत है।

    सूचनार्थ।

    उत्तर देंहटाएं